Sad Poetry Sad Hindi Urdu Poetry Archives - gazal and sher-shayari

#Sad Poetry Sad Hindi Urdu Poetry

"दुख-दर्द, प्रेम-अनुपस्थिति सभी के जीवन का अनकहा पहलू है, जिसे शब्दों में कह कर हल्का किया जा सकता है। विनोद 'शिखर' ने अपने शेर और ग़ज़लों में मन की पीड़ा को सरल तरीके से व्यक्त करने का प्रयास किया है। अच्छा लगे तो दूसरों के साथ शेयर करें।"

#Sad Poetry Sad Hindi Urdu Poetry

"वो चैन से सो रहे है शहर बेचकर,कोई सुहाग बचा रहा जेवर बेचकर,बाप ने उमर गुज़र दी घरोंदा बनाने में, बेटा उसकी सांसे खरीद रहा है घर बेचकर, बर्बाद हो गए कई घर दवा खरीदने में , कुछ लोगो की तिज़ोरी भर गई ज़हर बेचकर !! "

#Love Status Sad Poetry Sad Hindi Urdu Poetry

"चेहरा तो मिल जायेगा हमसे भी खूबसूरत, पर बात जब दिल की आयेगी, तो हार जाओगे "

#Love Status Sad Poetry Sad Hindi Urdu Poetry

"दोस्तों यूँ तो हमें हमेशा सकारात्मक विचार रखने चाहिए लेकिन ज़िंदगी का एक पहलु दर्द गम भी है इसे भी नज़रअंदाज़ नहीं कर सकते। कुछ वाक्य इन्ही क्षणों के लिए प्रस्तुत है लेकिन हमेशा एक बात याद रखियेगा अंधेरो ने कभी उजालो को नहीं रोका है बल्कि उजाला होते ही अँधेरा अपने आप गायब हो जाता है -विनोद कश्यप-"

sad poetry,sad urdu poetry, hindi poetry, sad and sorrow kavita, sher , shyari , gazal