Gulzar Sahab Ki 51 Ghazal Shayari Quotes Status

Gulzar Sahab Ki 51 Ghazal Shayari Quotes-

चेहरा तो मिल जायेगा हमसे भी खूबसूरत,

पर बात जब दिल की आयेगी, तो हार जाओगे

Ghazal Shayari Quotes

मैं अगर छोड़ न देता,

तो मुझे छोड़ दिया होता,

उसने इश्क़ में लाज़मी है,

हिज्रो- विसाल मगर इक अना भी तो है,

चुभ जाती है पहलू बदलने में कभी रात भर

पीठ लगाकर भी तो सोया नहीं जाता

Gulzar ki shayari quotes status

दिल तो रोज कहता है मुझे कोई सहारा चाहिए, फिर दिमाग कहता है क्या धोखा दोबारा चाहिए।

-Gulzar Sahab Ki Shayari
[the_ad id=”5843″]

कैसी ये मोहर लगा दी तूने…शीशे के पार से चिपका तेरा चेहरा मैंने चूमा तो मेरे चेहरे पे छाप उतर आयी है उसकी, जैसे कि मोहर लगा दी तूने… तेरा चेहरा ही लिये घूमता हूँ, शहर में तबसे लोग मेरा नहीं, एहवाल तेरा पूछते हैं, मुझ से !!

Ghazal Shayari Quotes Status
Gulzar Sahab Ki 51 Ghazal Shayari Quotes
Ghazal Shayari status

अभी न पर्दा गिराओ, ठहरो, कि दास्ताँ आगे और भी है
अभी न पर्दा गिराओ, ठहरो!
अभी तो टूटी है कच्ची मिट्टी, अभी तो बस जिस्म ही गिरे हैं
अभी तो किरदार ही बुझे हैं.
अभी सुलगते हैं रूह के ग़म, अभी धड़कते हैं दर्द दिल के
अभी तो एहसास जी रहा है.

Gulzar ki shayari quotes
[the_ad id=”5843″]

Hindi Video Ke Liye Yaha Aaye

ये बारिश गुनगुनाती थी, इसी छत की मुंडेरों पर
ये घर की खिड़कियों के काँच पर उंगली से लिख जाती थी संदेसे
बिलखती रहती है बैठी हुई अब बंद रोशनदानों के पीछे

Best Poetry by Gulzar

न दिन होता है अब न रात होती है,
सभी कुछ रुक गया है
वो क्या मौसम का झौंका था,
जो इस दिवार पर लटकी हुई तस्वीर तिरछी कर गया है

Best Shayari Quotes By Gulzar
[the_ad id=”5843″]

एक से घर है सभी, एक से बाशिंदे हैं
अजनबी शहर में, कुछ अजनबी लगता ही नही

Gulzar Ki Kalam Se

दौड़ दौड़ के क़दम मिलाता हूँ
ज़िंदगी ये कितनी तेज़ चलती है

Gulzar ki shayari quotes

Best Gazal Status With Images

Leave a Comment