Damru Kabhi Bhi Baj Sakta Hai

डमरू (डमरू कभी भी बज सकता है!)

एक बार की बात है, देवताओं के राजा इंद्र ने कृषकों से किसी कारण से नाराज होकर बारह वर्षों तक बारिश न करने का निर्णय लेकर किसानों से कहा-” अब आप लोग बारह वर्षों तक फसल नही ले सकेंगे।”

सारे कृषकों ने चिंतातुर होकर एक साथ इंद्रदेव से वर्षा करवाने प्रार्थना की । इंद्र ने कहा -” यदि भगवान शंकर अपना डमरू बजा देंगे तो वर्षा हो सकती है।” इंद्र ने किसानों को ये उपाय तो बताया लेकिन साथ में गुप्तवार्ता कर भगवान शिव से ये आग्रह कर दिया कि आप किसानों से सहमत न होना।
जब किसान भगवान शंकर के पास पहुँचे तो भगवान ने उन्हें कहा -” डमरू तो बारह वर्ष बाद ही बजेगा।”

किसानों ने निराश होकर बारह वर्षों तक खेती न करने का निर्णय लिया।

उनमें से एक किसान था जिसने खेत में अपना काम करना नहीं छोड़ा। वो नियमति रूप से खेत जोतना, निंदाई, गुड़ाई, बीज बोने का काम कर रहा था। ये माजरा देख कर गाँव के किसान उसका मज़ाक उड़ाने लगे। कुछ वर्षों बाद गाँव वाले इस परिश्रमी किसान से पूछने लगे -” जब आपको पता है कि बारह वर्षों तक वर्षा नही होने वाली तो अपना समय और ऊर्जा क्यों नष्ट कर रहे हो?”

उस किसान ने उत्तर दिया- मैं,भी जानता हूँ कि बारह वर्ष फसल नही आने वाली लेकिन मैं, ये काम अपने अभ्यास के लिए कर रहा हूँ।*क्योंकि बारह साल कुछ न करके मैं,खेती किसानी का काम भूल जाऊँगा,मेरे शरीर की श्रम करने की आदत छूट जाएगी। इसीलिए ये काम मैं, नियमित कर रहा हूँ ताकि जब बारह साल बाद वर्षा होगी तब मुझे अपना काम करने के लिए कोई कठिनाई न हो।

ये तार्किक चर्चा माता पार्वती भी बड़े कौतूहल के साथ सुन रही थी। बात सुनने के बाद माता, भगवान शिव से सहज बोली – “प्रभु,आप भी बारह वर्षों के बाद डमरू बजाना भूल सकते हैं।”

माता पार्वती की बात सुन कर भोले बाबा चिंतित हो गए।अपना डमरू बज रहा या नही ये देखने के लिए उन्होंने डमरू उठाया और बजाने का प्रयत्न करने लगे।

जैसे ही डमरू बजा बारिश शुरू हो गई…. जो किसान अपने खेत में नियमित रूप से काम कर रहा था उसके खेत में भरपूर फसल आयी। बाकी के किसान पश्याताप के अलावा कुछ न कर सके।

दो सप्ताह, दो माह, दो वर्षों के बाद कभी तो लाकडाउन खत्म होगा, सामान्य जनजीवन शुरू होगा।
केवल नकारात्मक बातों पर अपना ध्यान लगाने के बजाय हम अपने कार्य- व्यवसाय से संबंधित कुशलताओं की धार पैनी करने का, अपनी अभिरुचि का अभ्यास करते रहेंगे।

डमरू कभी भी बज सकता है।

Treading

#Famous Personality Quotes

"Best Inspiring life changing quote by Chetan Bhagat Indian Author and Columnist"

#Famous Personality Quotes

"यहाँ पर गुलज़ार साहब की लिखी शायरी उपलब्ध है जिन्हे आप वन क्लिक में कॉपी करके अपना स्टेटस बना सकते है और दूसरो के साथ शेयर भी कर सकते है "

#Sad Poetry Sad Hindi Urdu Poetry

"दुख-दर्द, प्रेम-अनुपस्थिति सभी के जीवन का अनकहा पहलू है, जिसे शब्दों में कह कर हल्का किया जा सकता है। विनोद 'शिखर' ने अपने शेर और ग़ज़लों में मन की पीड़ा को सरल तरीके से व्यक्त करने का प्रयास किया है। अच्छा लगे तो दूसरों के साथ शेयर करें।"

#Hindi Inspiring Blogs

"Naki was a black gardener who went on to work in the animal laboratory at the University of Cape Town and he assisted Barnard in the research effort that preceded the first human heart transplantation. Naki, who came from rural Transkei, had no access to higher education under apartheid."

#Love Status Sad Poetry Sad Hindi Urdu Poetry

"दोस्तों यूँ तो हमें हमेशा सकारात्मक विचार रखने चाहिए लेकिन ज़िंदगी का एक पहलु दर्द गम भी है इसे भी नज़रअंदाज़ नहीं कर सकते। कुछ वाक्य इन्ही क्षणों के लिए प्रस्तुत है लेकिन हमेशा एक बात याद रखियेगा अंधेरो ने कभी उजालो को नहीं रोका है बल्कि उजाला होते ही अँधेरा अपने आप गायब हो जाता है -विनोद कश्यप-"

More Posts